Students from DSF School Win Gold, Silver and Bronze Medals at Interstate Karate Tournament

In what HH Param Pujya Swami Chidanand Saraswatiji so beautifully called a “Journey from Medal to Model,” four students from the Divine Shakti Foundation school, Parmarth Nari Shakti Kendra, won Gold, Silver and Bronze medals at the Interstate Karate Tournament.

On hand at Parmarth’s Sacred Ganga Aarti to congratulate them and present their awards was K.V.Ushashricharan, Minister of Women, Children, Disabled and Senior Citizens Welfare for the Government of Andhra Pradesh, who shared that “our youth are the invaluable fund of India. Under the tireless efforts of Parmarth Niketan Ashram and under the guidance of Pujya Swami ji, children are performing at the state level. It is truly an incomparable effort, and I am sure that by staying in this divine environment and under the very best guidance, these children will surely bring glory to India in the future!”

Winning the Gold medal was Neelam Rawat, while Moksh Gupta took the Silver medal, and Rukmani Rawat and Nikhil Pal both won the Bronze. Also present for the ceremony were the children’s teacher, Shri Arun Gaurji, and Senior Parmarth Niketan associate, Ganga Nandini Tripathi ji, who conveyed Pujya Swamiji’s and Pujya Sadhvji’s heartfelt congratulations and blessings.

इंटरस्टेट टूर्नामेंट कराटे में परमार्थ निकेतन द्वारा संचालित परमार्थ नारी शक्ति केन्द्र के विद्यार्थियों ने गोल्ड मेडल, रजत और कांस्य पदक जीते

आंध्र प्रदेश सरकार की महिला, बाल, विकलांग और वरिष्ठ नागरिक कल्याण मंत्री के वी उषाश्री चरण जी ने परमार्थ गंगा आरती में किया सहभाग

राज्य स्तर प्रतियोगिता में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्रों को किया सम्मानित

नीलम रावत ने गोल्ड मेडल, मोक्ष गुप्ता ने रजत पदक, रुक्मणी रावत और निखिल पाल ने कांस्य पदक के साथ जीत हासिल की

स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी और साध्वी भगवती सरस्वती जी ने राज्य स्तर प्रतियोगिता में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्रों को वर्चअल माध्यम से बधाई दी

मेडल से माॅडल बनने की यात्रा

स्वामी चिदानन्द सरस्वती

10 अगस्त, ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन द्वारा संचालित परमार्थ नारी शक्ति केन्द्र में कराटे का प्रशिक्षण ले रहे छात्रों ने राज्य स्तर की प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुये गोल्ड, रजत और कांस्य पदक जीते। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्रों को परमार्थ निकेतन गंगा आरती में सम्मानित किया गया।

आंध्र प्रदेश सरकार की महिला, बाल, विकलांग और वरिष्ठ नागरिक कल्याण मंत्री के वी उषाश्री चरण जी ने गोल्ड मेडल विजेता नीलम रावत, रजत पदक प्राप्त करने वाले मोक्ष गुप्ता, कांस्य पदक विजेता रुक्मणी रावत और निखिल पाल को परमार्थ निकेतन गंगा तट पर गंगा आरती के दौरान सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कराटे शिक्षक अरुण गौर भी उपस्थित थे।

परमार्थ निकेतन की वरिष्ठ कार्यकर्ता सुश्री गंगा नन्दिनी त्रिपाठी जी ने राज्य स्तर की प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्रों और उनके शिक्षक श्री अरूण गौर को शुभकामनायें देते हुये कहा कि यह पूज्य स्वामी जी और साध्वी भगवती सरस्वती जी की प्रेरणा और आशीर्वाद के साथ आप सभी की कड़ी मेहनत का फल हैं। उन्होंने सभी छात्रों के उज्वल भविष्य की कामना की।

#माननीय मंत्री के वी उषाश्री चरण जी ने कहा कि हमारे युवा भारत की अमूल्य निधि हैं। परमार्थ निकेतन आश्रम के अथक प्रयासों और पूज्य स्वामी जी के मार्गदर्शन में बच्चे राज्य स्तर पर श्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं, वास्तव में यह अतुलनीय प्रयास है। मुझे विश्वास है इस दिव्य वातावरण और श्रेष्ठ मार्गदर्शन में रहकर आने वाले समय में बच्चे निश्चित रूप से भारत का नाम पूरी दुनिया में रोशन करेंगे।
मा

ननीय मंत्री के वी उषाश्री चरण जी ने सभी छात्रों को रूद्राक्ष का दिव्य पौधा देकर सम्मानित किया।